Domain Authority क्या है | Blog का DA कैसे बढ़ाएं ? In 2021

Spread the love
  • 2
    Shares

यदि आप नियमित रूप से अपने ब्लॉग या वेबसाइट का SEO स्कोर और रैंक चेक करते रहते हैं, तो बहुत संभव है कि आपने वेबसाइट के Domain Authority (DA) मेट्रिक के बारे में सुना होगा।

अगर आपने आज से पहले कभी DA नाम के शब्द का सामना नहीं किया है, तो हम आपको बता दें कि यह एक तरह का वेबसाइट स्कोर या साइट रैंकिंग है जो बताता है कि किसी वेबसाइट का Google, Bing और Yahoo! जैसे सर्च इंजन में अच्छी रैंक आने की कितनी संभावना है।

किसी वेबसाइट या ब्लॉग का DA यानि Domain Authority क्या होता है और उसके उतार-चढ़ाव का हमारी वेबसाइट पर क्या असर होता है, इस लेख में हम इसके बारे में आसान शब्दों में बात करने वाले हैं-


यह भी पढ़ें :- फ्री वेबसाइट और ब्लॉग कैसे बनाएं? | पूरी जानकारी हिंदी में In 2021


1. Domain Authority क्या है? (वेबसाइट का DA क्या होता है):

यदि हम किसी शब्द का अर्थ समझ लें तो उस शब्द को परिभाषित करना बहुत आसान हो जाता है। हम Domain Authority के मामले में भी ऐसा ही कर सकते हैं।

Domain Authority शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है- पहला Domain और दूसरा Authority। यहाँ Domain का मतलब है आपकी वेबसाइट का नाम (जैसे मेरी वेबसाइट का नाम Technofact.in ) और Authority का मतलब है – Status या Reputation

यानी हम कह सकते हैं कि Domain Authority एक SEO Score है जो बताता है कि सर्च इंजन की नजर में किसी वेबसाइट की कितनी प्रतिष्ठा है।

Domain Authority (DA) को दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे पुरानी Search Engine Optimization (SEO) कंपनी MOZ ने बनाया है। यह 1 से 100 के पैमाने पर एक वेबसाइट की स्थिति को मापता है, जिसके आधार पर हम यह पता लगा सकते हैं कि किसी वेबसाइट के गूगल में रैंक होने की कितनी संभावना है।

आपकी वेबसाइट का Domain Authority जितना अधिक होगा, Google में अच्छी रैंक होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी

यह भी ध्यान देने योग्य है कि Domain Authority का पैमाना लॉगरिदमिक प्रवृत्ति का होता है, यानी आपकी वेबसाइट का DA 1 से 10 तक बढ़ाना उतना मुश्किल नहीं है जितना कि इसे 11 से 20 तक ले जाना; इसी तरह अपना DA 11 से 20 तक लेना उतना मुश्किल नहीं है जितना कि 21 से 30 तक ले जाना!

एक Website का Score 30 है और दूसरे का 40. यानी Rank Website (SERPs) Search Engine Result Page में सबसे ऊपर होगा।

उदाहरण के लिए :-

आप विकिपीडिया देख सकते हैं, जिसका DA Score 100 है और इसके Page हमेशा Search Engine में सबसे ऊपर होते हैं।

Domain Authority कई कारकों पर निर्भर करता है। यदि आप सोच रहे हैं कि आपने आज एक Blog शुरू किया है और आपके Blog का Domain Authority 40 से 50 होगा, तो यह बिल्कुल भी संभव नहीं है।

Website के Domain Authority को बढ़ाने के लिए, आपको SEO पर काम करना होगा। Domain Authority को 15 से बढ़ाकर 30 करना बहुत आसान है लेकिन अगर आप 65 से 75 या 75 से 85 की बात करते हैं तो यह बहुत मुश्किल है।


यह भी पढ़ें :- Google Algorithm क्या है? यह कैसे काम करता है? Full Guide In 2022


अब आपको पता होना चाहिए कि Domain Authority Kya Hai ? तो अब मैं आपको अपने “Blog और Website के Domain Authority कैसे बढ़ाऊं” के बारे में बताता हूं।

2. Blog के Domain Authority को कैसे बढ़ाएं? ( 7 Tips )

अपने DA Score को बढ़ाने के लिए, आपको एक जबरदस्त रणनीति बनाकर अपने Blog को बेहतर बनाना होगा। बहुत अच्छी Content के साथ कई Unique Article लिखने होंगे और धैर्य रखना होगा।

इसके लिए आपको Content लिखते समय और उसे पब्लिश करने के बाद कुछ बातों का ध्यान रखना होगा, ताकि आप अपने Domain की Authority बढ़ा सकें। Domain Authority बढ़ाने के 7 बेहतरीन तरीके आपको बताते हैं।

#1 Quality Content

Domain Authority बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका High Quality की Content प्रकाशित करना है, Quality Content सबसे अच्छा है।

आपको Quality Content लिखे बिना कुछ भी क्यों करना चाहिए, लेकिन यह Search परिणामों में Top Rank नहीं करेगा और आपको वह ट्रैफ़िक नहीं मिलेगा जो आप चाहते हैं।

इसके अलावा, जब आपके Readers आपकी Site पर आएंगे और आपकी कम Quality की Content पढ़ेंगे और उन्हें यह पसंद नहीं आएगा, तो वे आपके Blog या Website पर फिर कभी नहीं आएंगे।

#2 On-Page SEO

DA Score बढ़ाने में On-Page SEO भी महत्वपूर्ण है। इसके लिए आपको पोस्ट लिखते समय On-Page Optimization पर ध्यान देना होगा और अपनी Website का Meta डेटा ठीक से लिखना होगा।

On-Page SEO की मदद से, आपका Domain Authority जल्दी से बढ़ेगा, On-Page SEO आने वाले कारक निम्नानुसार हैं।

  1. Focus Keyword

अपना Permalink और पहला पैराग्राफ उस Keyword में रखें, जिस पर आप अपनी पोस्ट को Rank करना चाहते हैं। ज्यादातर Long Tail Keyword पर ध्यान दें जो आसानी से Rank किए जाते हैं।

  1. Keyword Dencity

फ़ोकस Keyword का बार-बार उपयोग न करें और यदि संभव हो, तो आपको इसे 1.5 से 3% पर रखना चाहिए।

  1. Permalink

पोस्ट Permalink में, आप फोकस Keyword का उपयोग करते हैं। यदि आपकी पोस्ट का Title “Blog क्या है?” तो इसकी संरचना कुछ ऐसी होनी चाहिए जैसे कि https://example.com/blog-kya-hai/

  1. Meta Discription

अपने Meta Discription को भरने के लिए याद रखें और इसमें अपने फोकस Keyword का उपयोग करें।

  1. Heading Tag

पोस्ट में आवश्यकता के अनुसार Heading Tag (H 1, H 2, H 3, H 4, H 5, H 6) का उपयोग करें।

  1. Optimize Image

पोस्ट में आपके द्वारा जोड़ी जा रही Image को Optimize करना होगा।

इन विषयों पर ध्यान केंद्रित करने से, आप SEO को अच्छी तरह से अनुकूलित कर पाएंगे, आप हमारे Article को On-Page SEO के बारे में अधिक जानकारी के लिए पढ़ सकते हैं।

  •   On-Page SEO Kya Hai Content Ko बिल्कुल सही तरीके से Karne Ki Tips

#3 Internal Linking

अच्छी तरह से किया गया Internal Link न केवल आपके Domain Authority को बढ़ाने में मदद करता है, बल्कि आप अपनी Website की उछाल दर को भी कम कर सकते हैं।

इसके लिए, जब भी आप कोई पोस्ट लिखते हैं, तो उसकी Content से संबंधित अपने पुराने पोस्ट का Link जोड़ें, इससे पोस्ट अधिक जानकारीपूर्ण और आकर्षक हो जाती है।

इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपके उपयोगकर्ता को एक पोस्ट से दूसरे पोस्ट पर जाने का मौका मिलता है, जिससे बाउंस रेट कम हो जाता है।

#4 Create High Quality BackLink

यहां यह स्पष्ट रूप से High Quality वाला BackLink लिखा गया है जिसका अर्थ है कि हम High Quality वाले Backilink बनाने के बारे में बात कर रहे हैं।

अगर आपका Domain Authority 31 साल है और आप 20 Domain Authority वाली Website से BackLink ले रहे हैं तो आपको इससे ज्यादा फायदा नहीं होगा। उन साइटों से BackLink बनाएं जिनका Domain Authority अच्छा है।

इसके अलावा, अपनी Site के लिए प्रासंगिक Content वाली Site से Link करें, ऐसी Site से BackLink न बनाएं जो आपकी Site से संबंधित नहीं है। जैसे Tech Blog के लिए Health Blog से BackLink बनाना।

कई Blogger Fiverr जैसी साइटों से BackLink खरीदते हैं और कम Quality वाले BackLink बनाते हैं, जिससे Blog लाभ की बजाय उल्टा हो जाता है। आपको इसमें फंसना नहीं चाहिए और Paid BackLink खरीदने की गलती नहीं करनी चाहिए।

यकीन है कि यह कुछ प्रयास करेगा लेकिन अच्छी Site से मैन्युअल रूप से BackLink का निर्माण करेगा,

उदाहरण के लिए सोशल मीडिया Website पर अपनी पोस्ट Share करें, लगभग सभी सोशल साइट्स पर अच्छा नेटवर्क Authority है।

#5 Broken Link को ठीक करें

Search Engine में अपनी Site की रैंकिंग बनाए रखने के लिए, आपकी Website से खराब और हानिकारक Link को ठीक करना या निकालना आवश्यक है। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो धीरे-धीरे आपकी Site को नीचे स्थान दिया जाएगा।

यह कार्य Quality BackLink बनाने के समान है, आपको अपनी Site के सभी पोस्ट से Broken Link को ठीक करना होगा। Broken Link को Search के लिए, आप Broken Link चेकर प्लगइन या Broken Link फाइंडर Tools का उपयोग कर सकते हैं।

#6 Domain Age

Domain की Age आपकी Site की Search रैंकिंग और Domain Authority को बढ़ाने में मदद करती है। यह कहने के लिए कि यदि आपकी Site 2-3 साल पुरानी है और नियमित रूप से अपडेट की जाती है, तो इसका मतलब है कि आप लगातार उस पर Quality Content प्रकाशित कर रहे हैं।

इसीलिए यदि आपकी Site स्पैम नहीं है तो आपकी Site Google Search परिणामों में अच्छी Rank करेगी। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि नए Domain वाली Site Google में Rank नहीं करेगी।

अब आपको संयम से काम लेना है और Quality की Content को प्रकाशित करते रहना है क्योंकि आपकी Domain Age बढ़ती है। धीरे-धीरे आपका Domain Authority Score बढ़ता जाएगा।

#7 नियमित अपडेट ( Regular Update )

नियमित रूप से Blog पर Quality Content प्रकाशित करना Domain Authority को बढ़ाने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यदि आप अपने Blog पर जारी पोस्ट लिखते हैं, तो आपको Domain Authority के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

मुझे पता है कि यह आसान नहीं है, लेकिन आपको अच्छा Domain Authority प्राप्त करना है। यदि आप नियमित रूप से अपडेट नहीं करते हैं, तो आपका Domain Authority नीचे जाना जारी रहेगा।

आप केवल अपने Blog पर Quality Content के साथ Article लिखने पर ध्यान केंद्रित करते हैं, समय के साथ आपका Domain Authority बढ़ जाएगा।

नियमित पोस्ट Share करने के कई और लाभ हैं, आपकी Site पर ट्रैफ़िक बढ़ेगा, आपके Article Writing कौशल में भी सुधार होगा और आपको बहुत सी अच्छी चीजें सीखने को मिलेंगी।

इन तरीकों से आप अपने Blog के Domain Authority को बढ़ावा दे सकते हैं, अब मैं आपको दिखाता हूं कि अपने Blog के Domain Authority की जांच कैसे करें।


यह भी पढ़ें :- Google Assistant क्या है | Google Assistant का उपयोग कैसे करें? 2022


3. Domain Authority का इतिहास ( History Of DA )

DA को करीब एक दशक पहले Moz कंपनी ने लॉन्च किया था. इसके बाद Moz ने अपना पहला अपडेट पिछले साल मार्च 2019 में ही निकाला, जिसे उन्होंने Domain Authority 2.0 नाम दिया।

DA के अलावा SEO में और भी कई मेट्रिक हैं जैसे :-

  • Semrush कंपनी का Authority Score (AS),
  • Ahrefs (Hrefs) का Domain Rating (DR)
  • Ubersuggest का Domain Score (DS)

लेकिन इन सब में से Moz की Domain Authority सबसे सटीक और विश्वसनीय मानी जाती है। इसलिए ज्यादातर लोग इसका इस्तेमाल ज्यादातर करते हैं।


यह भी पढ़ें :- Google bot क्या है | Google bot कैसे काम करता है? In 2021


4. Domain Authority किस पर निर्भर करती है ?

किसी साइट का DA कई कारकों पर निर्भर करता है, जिनमें से कुछ प्रमुख कारक हैं-

#1 Backlink 

अगर आपकी साइट पर अच्छी यानी क्वालिटी Backlink हैं तो इस बात की अच्छी संभावना है कि आपकी साइट का DA बहुत अच्छा होगा क्योंकि आपके Domain Authority पर 30% प्रभाव आपकी साइट के Backlink का होता है।

#2 Content

Backlink के बाद दूसरी सबसे बड़ी चीज जो किसी साइट के DA को प्रभावित करती है वह है आपकी साइट का Content। अपनी साइट का DA बेहतर करने के लिए जरूरी है कि आप अपने Content में भी सुधार करें।

#3 Internal Linking

अगर आप अपने ब्लॉग के अलग-अलग पोस्ट को एक दूसरे से लिंक करते हैं तो इस काम को Internal Linking कहते हैं। आपकी साइट की उचित Internal Linking का भी उसके DA पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

#4 Author 

हालांकि यह विश्वास करना थोड़ा मुश्किल है कि Google अपनी खोज में वेबसाइटों को रैंक करता है जिसके आधार पर लेखक ने पोस्ट लिखी है। अगर कोई नामी लेखक कोई पोस्ट लिखता है तो गूगल उसके द्वारा लिखे गए आर्टिकल को सर्च में जरूर प्राथमिकता देता है।


यह भी पढ़ें :- Google Mera Naam Kya Hai & गूगल मेरा नाम क्या है ?


5. Google में अच्छी रैंक करने के लिए किसी साइट का Domain Authority क्या होना चाहिए ?

आपकी साइट को Google में रैंक करने के लिए DA कितना सही होगा, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी साइट किस टॉपिक पर लिखी गई है।

यदि आपकी साइट किसी ऐसे विषय पर बनी है जिसमें बहुत अधिक प्रतिस्पर्धा है यानि उस विषय पर पहले से ही बहुत से लोग लिख रहे हैं, तो इस स्थिति में आपको अपनी साइट को Google में रैंक करने के लिए बहुत अच्छा Domain Authority अर्जित करना होगा।

वहीं अगर आप किसी ऐसे टॉपिक पर लिख रहे हैं जिस पर बहुत कम प्रतिस्पर्धा है तो इस स्थिति में भले ही आपकी वेबसाइट का DA थोड़ा कम हो, आप आसानी से Google में अच्छी स्थिति में रैंक कर सकते हैं।

वैसे हिंदी भाषा में लिखने वाली ज्यादातर वेबसाइट का औसत DA 6 से 40 के बीच होता है। कहने का मतलब यह है कि अगर आप हिंदी में ब्लॉगिंग करते हैं और आपकी साइट का DA 6 से ऊपर है तो आप आसानी से Google में एक अच्छे स्थान पर रैंक कर सकते हैं।

साथ ही, अंग्रेजी भाषा में कम प्रतिस्पर्धा वाले कीवर्ड में भी रैंक करने के लिए आपका DA आमतौर पर 40 से ऊपर होना चाहिए। उच्च प्रतिस्पर्धा वाले कीवर्ड के लिए, यह आंकड़ा 70 के पार भी पहुंच जाता है।

Google और अन्य सर्च इंजन में रैंकिंग के लिए अच्छा DA आवश्यक है, हालाँकि आप अपनी साइट को केवल DA के आधार पर रैंक नहीं कर सकते। इसके अलावा और भी कई चीजें हैं जो मायने रखती हैं।

इसके अलावा अगर आपकी साइट का DA बहुत अच्छा नहीं है तो निराश होने की कोई बात नहीं है क्योंकि मेरी अपनी साइट का DA भी 6 है। जब आप लगातार अपनी साइट को अपडेट रखते हैं तो आपका DA भी धीरे-धीरे अपने आप बढ़ जाता है। इसलिए DA की जगह अपने Content पर ज्यादा ध्यान दें!


यह भी पढ़ें :- Youtube Kya Hai और यह कैसे काम करता है? In 2021


6. अपने ब्लॉग की Domain Authority कैसे पता करें ?

जैसा कि हम जानते हैं कि Moz Corporation Domain Authority को मैनेज करता है। इसलिए, आप Domain Authority को चेक करने के लिए Moz द्वारा बनाए गए Domain Authority Checker टूल का उपयोग कर सकते हैं।

  • इसके लिए आपको बस Moz के Link Explorer टूल में जाना है।
  • वहां पहुंचने के बाद आपको दिए गए बार में अपनी साइट का URL टाइप करना है।
  • इसके बाद आपको एनालिसिस के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको Moz पर अकाउंट बनाने का विकल्प मिलता है, जिसे पूरा करने के बाद आप किसी साइट की Domain Authority को चेक कर सकते हैं।

इस तरह आपके सामने Domain Authority और Page Authority की एक पूरी लिस्ट खुल जाती है और साथ ही आपके सामने कई सारी जानकारियां (जैसे Backlink, कीवर्ड्स आदि) खुल जाती हैं। अब आप आसानी से अपनी वेबसाइट की ग्रोथ का पता लगा सकते हैं।

इसके अलावा आप किसी साइट की Domain Authority को गूगल में जाकर और आने वाली वेबसाइट्स पर जाकर “Website DA Checker” सर्च कर आसानी से चेक कर सकते हैं।


यह भी पढ़ें :- Fresh Blog Content के लिए नया टॉपिक कैसे खोजें ? In 2021 


7. Google में रैंक करने के लिए ‘DA’ क्यों जरूरी है?

DA एक मानदंड है जो बताता है कि आपकी साइट को Google या किसी अन्य खोज इंजन में अच्छी रैंक करने के लिए कितनी शक्ति है।

गौर करने वाली बात यह है कि Google कभी भी DA को ध्यान में रखकर अपने सर्च में साइट को रैंक नहीं करता है।

बल्कि, DA Moz (जो एक इंटरनेट कंपनी है) द्वारा बनाया गया एक स्कोर है जो केवल एक अनुमानित अनुमान देता है कि आपकी साइट में Google में रैंक करने की कितनी क्षमता है।

Google कभी भी किसी साइट का DA, PA या Moz रैंक चेक करके रैंक नहीं करता है। DA एक तरह से आपके Domain की रैंकिंग की ताकत का अनुमान मात्र है।


यह भी पढ़ें :- Blogging Vs Youtube In Hindi | पैसे कमाने के लिए कौन सबसे अच्छा है ? 2021


8. Page Authority क्या है ?

जिस तरह Domain Authority (DA) Google में किसी साइट की रैंक की भविष्यवाणी करता है, उसी तरह PA यानी Page Authority किसी एक Page या पोस्ट को रैंक करने की साइट की क्षमता के बारे में बताती है।


यह भी पढ़ें :- Blogger Vs WordPress | Best Blogging Platform


9. Domain Authority 2.0 क्या है?

5 मार्च 2019 को, Moz ने कई वर्षों के बाद अपने लोकप्रिय मेट्रिक्स Domain Authority (DA) का पहला अपडेट जारी किया, जिसे उसने Domain Authority 2.0 नाम दिया।

इस नए DA के तहत, Moz ने अपने एल्गोरिदम में कई बड़े बदलाव किए (अर्थात DA निर्धारित करने वाले नियम), ताकि DA Google से नियमित रूप से आने वाले नए अपडेट के साथ तालमेल बिठा सके। Moz के इस अपडेट की वजह से कई साइट्स के DA में गिरावट आई, वहीं कई साइट्स को इससे काफी फायदा हुआ है.

Author Angle  :

Google वेबसाइटों को सीधे Domain Authority के आधार पर SERPs में रैंक नहीं करता है, लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से आपकी साइट का Domain Authority आपके लिए एक दर्पण की तरह काम करता है जो आपको यह एहसास दिलाता है कि आप अपनी साइट पर कितना काम कर रहे हैं। और अब आपकी साइट में कितनी मेहनत बची है जिसे आपको हटाना है।

Domain Authority आमतौर पर समय बीतने के साथ अपने आप सुधर जाता है, इसलिए इसके बारे में ज्यादा चिंता करने की बजाय अपनी साइट पर ज्यादा ध्यान दें। साइट में सुधार करने पर DA अपने आप बढ़ जाता है

जैसा कि मैंने ऊपर उल्लेख किया है, आप एक दिन me Domain Authority नहीं बढ़ा सकते हैं, लेकिन मैंने यह भी बताया है कि Domain Authority Kya Hai ? आप अपने Blog के Domain Authority की जांच कैसे कर सकते हैं।

याद रखें कि अच्छे Domain Authority का मतलब है Search Engine में अच्छी रैंकिंग। आपको बस इतना करना है कि अपने Blog पर नियमित रूप से अच्छी पोस्ट लिखते रहें और धैर्य रखें।

इसलिए यहां, आपके साथ Share की गई जानकारी के साथ, आप अपने Blog का DA आसानी से बढ़ा पाएंगे। अगर आपको हमारी जानकारी Domain Authority Kya Hai ? अपने Blog का DA कैसे बढ़ाएं? अच्छी लगी हो तो आगे भी जरूर शेयर करें।


Technofact.in


Conclusion :-

हम आशा करते हैं कि आपको हमारी Domain Authority के बारे में जानकारी Domain Authority क्या है ? Blog का DA कैसे बढ़ाएं ? In 2021 पसंद आई होगी

अगर आपका Domain Authority से related कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स के जरिए पूछ सकते हैं, हम आपके सवाल का जवाब जरूर देंगे। इसके अलावा आप चाहें तो हमसे फेसबुक पर भी जुड़ सकते हैं।

अगर आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ लिया होगा तो अब तक आपको यह सारी जानकारी मिल गई होगी और आपको अपने प्रश्न का उत्तर भी मिल गया होगा, जिसे खोजते हुए आप हमारे ब्लॉग पर आए।

तो आज का पोस्ट Domain Authority क्या है ? Blog का DA कैसे बढ़ाएं ? In 2021 आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताये और आगे से इस तरह के पोस्ट को पाने के लिए ईमेल न्यूज़ लेटर जरूर सब्सक्राइब करें।


! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

share this post

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें !


Spread the love
  • 2
    Shares

8 thoughts on “Domain Authority क्या है | Blog का DA कैसे बढ़ाएं ? In 2021”

Leave a Comment