Paytm KYC Verification कैसे सत्यापित करें? | Paytm KYC verification in 2021

Paytm KYC Verification कैसे सत्यापित करें? | Paytm KYC verification in 2021

Paytm यूजर्स के लिए Paytm KYC Verification भी कराना अनिवार्य हो गया है। Paytm KYC ग्राहक को कई लाभ मिलते हैं। जिन्होंने Paytm वॉलेट को अपग्रेड नहीं किया है। उन्हें Paytm वीआईपी ग्राहक का विशेष लाभ नहीं मिलता है।

अगर आप भी Paytm से Online पेमेंट करते हैं। तो यह KYC गाइड सिर्फ आपके लिए है। क्योंकि इसमें हम आपको बताएंगे कि Paytm Wallet का Paytm KYC Verification कैसे करें?

Paytm में आधार कार्ड को लिंक करने का तरीका क्या है? अपना Paytm KYC कैसे अपडेट करें?

इसके अलावा आपको पता चल जाएगा कि KYC Verify कराने से क्या-क्या फायदे होते हैं? आपको KYC Verification क्यों करवाना चाहिए?

इससे पहले कि आप अपना Paytm KYC सत्यापित करें। आइए सबसे पहले आपको KYC के बारे में बताते हैं कि KYC क्या है? KYC Verification क्यों महत्वFull है? KYC Verification के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?


यह भी पढ़ें :- Paytm Kaha Ki Company Hai ? और इसका मालिक कौन है ?


1. KYC क्या है ?

KYC – अपने ग्राहक को जानें का मतलब हिंदी में KYC का मतलब है “अपने ग्राहक को जानें” KYC वित्तीय क्षेत्र में बहुत लोकप्रिय शब्द है। इसका उपयोग वित्तीय संस्थानों द्वारा अपने ग्राहक की पहचान सत्यापित करने के लिए किया जाता है।

दरअसल, बैंक, बीमा कंपनियां आदि जैसी संस्थाएं ग्राहकों को अपनी सेवाएं देने से पहले अपनी पहचान सत्यापित करना चाहती हैं। यह इस प्रक्रिया के लिए KYC का उपयोग करता है। KYC के जरिए यह ग्राहक की पहचान और पते के Verification की पुष्टि करता है।

KYC Verification के लिए, भारत सरकार ने आधार कार्ड को KYC के लिए आवश्यक दस्तावेज माना है। हालाँकि, आप पैन कार्ड, DL – ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा कार्ड, वोटर ID, पासपोर्ट आदि दस्तावेजों के माध्यम से भी अपना KYC Verification करवा सकते हैं।


यह भी पढ़ें :- Free Fire का मालिक कौन है और Free Fire किस देश का Game है?


2. Paytm KYC Verification के लाभ

Paytm वॉलेट KYC सत्यापित होने के बाद, आप Paytm KYC ग्राहक बन जाते हैं। यानी जिनका KYC वेरिफाई हो चुका है। आपका आधार कार्ड Paytm से लिंक है। अब आप Paytm KYC उपयोगकर्ता हैं और Paytm गैर-KYC उपयोगकर्ता नहीं हैं। आपको KYC Verification के निम्नलिखित फायदे हैं।

  1. आपका Paytm वॉलेट अपग्रेड हो जाता है। यानी अब आप एक महीने में ₹10,000 से ज्यादा खर्च कर सकते हैं।
  2. आप अपने Paytm वॉलेट में ₹1,00,000 तक रख सकते हैं। जिसका इस्तेमाल आप Paytm से पेमेंट करने और Online शॉपिंग करने के लिए कर सकते हैं।
  3. आप एक Paytm KYC ग्राहक हैं, तो आपको विशेष ऑफर और Paytm कैशबैक के अधिक अवसर मिलते हैं।
  4. आपके लिए Paytm पेमेंट्स बैंक में खाता खोलना आसान हो जाता है।
  5. Paytm वॉलेट का इस्तेमाल जारी है। और आप वॉलेट में उपलब्ध सभी सुविधाओं का लाभ उठाने के योग्य हैं।

यह भी पढ़ें :- Realme kaha ki company hai ? और इसका मालिक कौन है ? 2021


3. Paytm KYC Verification के विभिन्न प्रकार

Paytm ने अपनी सेवाओं तक आसान पहुंच बनाए रखने के लिए अपने ग्राहकों को तीन प्रकार के KYC उपलब्ध कराए हैं। प्रत्येक KYC के अपने फायदे और सीमाएं हैं। जिसे नीचे देखा जा सकता है।

  1. Min KYC
  2. Self KYC
  3. Full KYC

विभिन्न प्रकार के KYC और इसकी सीमाओं के लिए आवश्यक दस्तावेज नीचे देखे जा सकते हैं।

Paytm KYC Verification के विभिन्न प्रकार और लाभ :-

#1 Min KYC क्या है और Min KYC पूरा करने के क्या लाभ हैं?

भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार, डिजिटल वॉलेट एक प्रीपेड उपकरण है। RBI ने इसे संचालित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। उनके अनुसार, सभी वॉलेट जारी करने वाले बैंकों को अपने ग्राहकों को जानने की जरूरत है। उनके प्राथमिक की पहचान करने के बाद ही उन्हें वॉलेट जारी किया जाना चाहिए।

इसके बाद सभी डिजिटल वॉलेट कंपनियां अपने ग्राहकों की पहचान की पुष्टि करती हैं।

Paytm द्वारा अपने ग्राहकों की पहचान सत्यापित करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली प्रक्रिया को मिनिमैन KYC कहा जाता है।

इसके तहत ग्राहक को Paytm को पासपोर्ट, वोटर ID कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा जॉब कार्ड में दिया गया नाम आदि और विशिष्ट पहचान संख्या देनी होगी।

Min KYC Verification पूरा होने के बाद, ग्राहक दैनिक डिजिटल कार्यों को करने के लिए Paytm वॉलेट का उपयोग करने में सक्षम होता है। और इसे Paytm वॉलेट के निम्नलिखित लाभ मिलने लगते हैं।

  • Paytm से दुकानदारों को भुगतान।
  • Online शॉपिंग का भुगतान करें।
  • आप Paytm वॉलेट में 10,000 रुपये तक का बैलेंस रख सकते हैं।

लेकिन, इन फायदों के अलावा आप और भी कई सुविधाओं से वंचित रह जाते हैं. उदाहरण,

  • आप अपने दोस्त को पैसे ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे।
  • आप बैंक में पैसे ट्रांसफर नहीं कर सकते।
  • आप Paytm में 1,00,000 रुपये तक का बैलेंस नहीं रख सकते।
  • आप Paytm पेमेंट बैंक में बचत खाता नहीं खोल सकते।

अब आप विभिन्न प्रकार के Min KYC के बारे में जान गए हैं। और इसके फायदे और नुकसान के बारे में भी जाना। आइए, अब क्या है मिनिमम KYC Verification की प्रक्रिया? आइए उसे भी जानते हैं।


यह भी पढ़ें :- Duniya Ka Sabse Achcha Game | दुनिया का सबसे अच्छा गेम कौन सा है ?


1. Min KYC कैसे करें

  • सबसे पहले आप अपना Paytm ऐप डाउनलोड करके ओपन करें। और KYC आइकन पर टैप करें।
  • दिखाई देने वाली ID में से अपनी ID चुनें. मतलब आप किस ID से KYC करना चाहते हैं।
  • अब ID नंबर और ID में अपना नाम लिखें।
  • आपके द्वारा लिखी गई जानकारी की पुष्टि करने के लिए चेक मार्क करें। और सबमिट कर दें।
  • बधाई हो! आपने सफलतापूर्वक सेल्फ KYC Verification कर लिया है।

ध्यान देना

RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार, Min KYC केवल 18 महीनों के लिए वैध है। इसके बाद आप वॉलेट का इस्तेमाल नहीं कर सकते। वॉलेट को आगे इस्तेमाल करने के लिए आपको Paytm फुल KYC Verification कराना होगा। जिसे आगे समझाया गया है।


यह भी पढ़ें :- Apple IOS Kya Hai ? पूरी जानकारी हिंदी में In 2021


2. अगर मैं Min KYC पूरा नहीं करता तो क्या होता है?

आपको बताया गया है कि Paytm वॉलेट का उपयोग करने के लिए अपनी पहचान सत्यापित करना आवश्यक है। जिसके लिए Paytm Min KYC Verification करना होगा। यदि आप इस प्रक्रिया को समय पर पूरा नहीं करते हैं, तो आप वॉलेट का उपयोग नहीं कर पाएंगे।

हालांकि, किसी कारण से आप Paytm Min KYC Verification प्राप्त करने में असमर्थ हैं। तो इस स्थिति में भी आप UPI मनी ट्रांसफर के लिए Paytm का इस्तेमाल कर पाएंगे। इसके साथ ही आप क्रेडिट/डेबिट और नेट बैंकिंग के जरिए Online शॉपिंग कर सकेंगे।


यह भी पढ़ें :- Google Mera Naam Kya Hai & गूगल मेरा नाम क्या है ?


3. मुझे कैसे पता चलेगा कि मेरा Min KYC पूरा हो गया है?

यदि आपने अपना Min KYC पूरा कर लिया है, तो KYC आइकन Paytm ऐप के शीर्ष पर होमपेज पर दिखाई देगा। इस आइकन पर क्लिक या टैप करके आप KYC की Min समय सीमा भी जान सकते हैं।


यह भी पढ़ें :- Tinder Kya Hai & What Is Tinder In Hindi ?


#2 Self KYC और आधार-आधारित KYC कैसे संचालित करें

  • Paytm ऐप खोलें। और KYC आइकन पर क्लिक करें।
  • अपना आधार नंबर लिखें।
  • अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी लिखें।
  • पहचान की पुष्टि करें।
  • इसके बाद अपनी जानकारी भरें। और सबमिट कर दें।
  • बधाई हो! आपने आधार आधारित KYC सफलतापूर्वक कर लिया है।

नोट :- इस KYC को अब Min KYC में जोड़ दिया गया है।


यह भी पढ़ें :- Youtube Kya Hai और यह कैसे काम करता है? In 2021


#3 Paytm फुल KYC क्या है और इसके होने के क्या फायदे हैं?

Full जाना और अपनी पहचान सत्यापित करना Full KYC कहलाता है। इस दौरान ग्राहक खुद Paytm एजेंट के पास जाता है और आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर ID कार्ड आदि जैसे दस्तावेजों से अपनी पहचान सत्यापित करवाता है और ओटीपी और फोटोग्राफ द्वारा प्रमाणीकरण साबित करता है।

फुल KYC करने पर आप Paytm KYC कस्टमर बन जाते हैं। और आपको वॉलेट की सभी सुविधाओं तक पहुंच प्राप्त होती है। जिसके तहत आपको निम्न लाभ मिलते है।

  • वॉलेट में पैसे रखने की सीमा 10,000 से बढ़ाकर 1 लाख रुपये की जाती है।
  • बटुए द्वारा खर्च की सीमा समाप्त हो गई है।
  • आप Paytm से दूसरे वॉलेट या बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने के पात्र हैं।
  • Paytm पेमेंट्स बैंक में बचत खाता खोल सकते हैं।

यह भी पढ़ें :- Josh App Kya Hai ? Josh App से पैसा कैसे कमा सकते हैं ? 2021


1. मैं Full KYC कैसे करवा सकता हूं?

Full KYC प्रदान करने के लिए, Paytm ने ग्राहकों की सुविधा पर व्यवस्था की है। जिसके अनुसार आप Paytm को कई तरह से फुल KYC कर सकते हैं। Full KYC प्राप्त करने के सभी तरीके नीचे बताए गए हैं।


यह भी पढ़ें :- Podcast kya Hota Hai | Podcast से पैसे कैसे कमा सकते हैं ? In 2021


2. Full Paytm KYC Verification कैसे प्राप्त करें

भारत के सर्वोच्च न्यायालय के एक नए आदेश के बाद आधार-आधारित KYC प्रक्रिया को बंद कर दिया गया है। और इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। आप नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके Paytm Full KYC Complete कर सकते हैं।

Step 1

सबसे पहले Paytm ऐप में जाएं और अपने नजदीकी KYC Center का पता लगाएं। इसकी जानकारी आप Paytm एप में पा सकते हैं। नियर KYC पर टैप करते ही आपके सामने फोन नंबर और पूरे पते के साथ आपके स्थान के सबसे नजदीक KYC केंद्रों की सूची खुल जाएगी। अब आप जिस Center से KYC करवाना चाहते हैं, उससे संपर्क करें।

अपना निकटतम KYC Center खोजें

अगर आप पिन कोड के जरिए नियर KYC Center ढूंढना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।

Paytm KYC Center

Step 2

KYC Center ढूंढ़ने के बाद किसी भी सरकार द्वारा स्वीकृत ID प्रूफ के साथ यहां जाएं।

  • सरकार द्वारा स्वीकृत ID
  • वोटर ID
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट
  • नरेगा जॉब कार्ड

Step 3

KYC Center पर पहुंचने के बाद, अधिकृत एजेंट को अपने KYC को अपग्रेड करने के लिए कहें और एजेंट जल्द ही KYC प्रक्रिया शुरू करेगा। इस दौरान वह आपके ID प्रूफ की तस्वीरें लेगा। इसके अलावा आपका पता माता-पिता की जानकारी भी मांगेगा। तो इस काम में आप एजेंट का सहयोग करें।

Step 4

यह सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा। आप इसे एजेंट के साथ साझा करें और अपनी पुष्टि दें। और बस। आपका KYC कुछ ही समय में अपडेट हो जाएगा।


यह भी पढ़ें :- FieWin Se Paise Kaise Kamaye | Earn Money From FieWin


FAQ :-

मैं घर पर Paytm KYC कैसे सत्यापित करूं? क्या ऐसा संभव है

हाँ। आप घर बैठे ही पूरा Paytm KYC सत्यापित कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको Paytm के सर्विस एरिया के दायरे में होना चाहिए। क्योंकि यह सुविधा सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि चुनिंदा राज्यों के कुछ ही शहरों में उपलब्ध कराई जा रही है।

मैंने सुना है कि Full KYC के लिए भी पैन कार्ड मांगा जाता है। क्या यह सच है?

अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो घबराने की जरूरत नहीं है। क्योंकि आप बिना पैन कार्ड के Paytm KYC Verify कर सकते हैं। इसके लिए Paytm एजेंट आपको फॉर्म 60 की घोषणा करता है। जिसका आपको पूरा भुगतान करना है

Paytm KYC शुल्क कितना है?

Paytm KYC बिल्कुल मुफ्त है। इसलिए मांगने पर भी भुगतान नहीं करना पड़ता है। अगर कोई Paytm एजेंट आपसे KYC के बदले पैसे मांगता है तो आपको Paytm से शिकायत करनी होगी।

KYC Verification पूरा होने में कितना समय लगता है?

KYC Verification कार्य के Verification के बाद 2 से 3 दिनों में KYC अपडेट।

Full KYC के लिए किसे योग्य माना जाता है?

Paytm के मुताबिक, कोई भी भारतीय नागरिक (विदेशी और नाबालिग को छोड़कर) जिसकी उम्र 18 साल हो चुकी है। उन्हें KYC के लिए योग्य माना जाता है।

मुझे कैसे पता चलेगा कि मैंने KYC पूरा कर लिया है?

अगर आपने KYC पूरा कर लिया है, तो आप Paytm अकाउंट में लॉग इन करके अपनी प्रोफाइल फोटो के आगे एक नीला निशान देख पाएंगे। यदि यह नीला चेक मार्क प्राप्त होता है तो आपका Full KYC हो जाता है।


यह भी पढ़ें :- Ghar Baithe Paise Kaise Kamaye & हिंदी में 22 आसान तरीके


KYC सपोर्ट के लिए यह वीडियो देखें।

आपने क्या सीखा?

इस Paytm KYC गाइड में, हमने आपको बताया कि Paytm KYC Verification करने का तरीका क्या है? Paytm KYC Verification होने के क्या लाभ हैं? Paytm वॉलेट कैसे अपग्रेड करें?


Technofact.in


Conclusion :-

हमें उम्मीद है कि यह KYC गाइड आपके लिए उपयोगी होगा। अगर आपका Paytm KYC Verification से जुड़ा कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट के जरिए बता सकते हैं।

अगर आपने हमारे लेख को पूरा पढ़ लिया होगा तो अब तक आपको यह सारी जानकारी मिल गई होगी और आपको अपने प्रश्न का उत्तर भी मिल गया होगा, जिसे खोजते हुए आप हमारे ब्लॉग पर आए।

तो आज का पोस्ट आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताये और आगे से इस तरह के पोस्ट को पाने के लिए ईमेल न्यूज़ लेटर जरूर सब्सक्राइब करें।


! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

share this post

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें !

Previous articleCID Ka Full Form क्या है | CID क्या है?
Next articleFieWin से पैसे कैसे कमाएं ? | Earn Money From FieWin In 2021
मेरा नाम Rajat Panday है ओर TechnoFact.in मेरा ब्लॉग वैबसाइट है जहा मै हिन्दी मे इंटरनेट, मोबाइल, टेक्नालजी, टिप्स ट्रिक्स जैसी सारी जानकारी देता हु । मै कोशिश करूंगा की इस ब्लॉग के जरिये लोगो तक सही जानकारी हिन्दी भाषा मे प्राप्त हो सके । ! साइट पर आने के लिए आपका धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here